Homeशिक्षा से जुड़े हुएWhat is Motor Starter in Hindi (2022) Updated

What is Motor Starter in Hindi (2022) Updated

मोटर स्टार्टर क्या है – आज के पोस्ट में मोटर स्टार्टर क्या है (Starter IN HINDI) के विषय में जानकारी दूंगा । मोटर को स्टार्ट करने के मोटर स्टार्टर ही क्यू इस्तेमाल किया जाता है । इसके जगह पर MCB का इस्तेमाल क्यू नहीं किया जाता । साथ ही MCB or स्टॉर्टर में क्या अंतर होता है के विषय में भी जानेगे ।

What is a Motor Starter IN HINDI

Motor starter In Hindi
Motor starter In Hindi

मोटर स्टार्टर एक विद्युत उपकरण है जिसका उपयोग मोटर को सुरक्षित रूप से शुरू और बंद करने के लिए किया जाता है। मोटर स्टार्टर एक रिले के समान, मोटर स्टार्टर बिजली को चालू/बंद करता है और लेकिन एक रिले के विपरीत, यह कम वोल्टेज और ओवरकुरेंट सुरक्षा भी प्रदान करता है।


मोटर स्टार्टर का मुख्य कार्य है –

  • मोटर को लो वोल्टेज और ओवर करंट से बचाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है .
  • मोटर की दिशा उलटने के लिए इस्तेमाल किया जाता है .
  • मोटर को सुरक्षित रूप से शुरू करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है .
  • मोटर को सुरक्षित रूप से रोकने के लिए इस्तेमाल किया जाता है .

एमसीबी और स्टार्टर में अंतर

  • MCb  का इस्तेमाल करे तो हम सिस्टम को पूर्ण रूप से ऑटोमेशन में नहीं कर सकते है ।
  • स्टॉर्टर का इस्तेमाल करे तो हम सिस्टम को आटोमेटिक कर सकते है ।
  • MCB  जो की पूरी तरह से एक मैन्युअल सिस्टम होता है ।
  • अगर स्टार्टर की बात करे तो स्टार्टर को आप बिजली के माध्यम से कही दूर से भी ऑपरेट कर सकते है ।
स्टार्टर क्या है
स्टार्टर क्या है

बहुत से लोगो के मन में ये सवाल आता होगा । आखिर हम लोग स्टॉर्टर का इस्तेमाल क्यू करते है । उसके जगह पर हम लोग MCB का भी इस्तेमाल कर सकते है । पर ऐसा क्या खास होता है की mcb  का इस्तेमाल नहीं किया जाता है । इसके पीछे सबसे बड़ा कारण ये होता है की अगर हम MCb  का इस्तेमाल करे तो हम सिस्टम को पूर्ण रूप से ऑटोमेशन में नहीं कर सकते है । जबकि अगर स्टॉर्टर का इस्तेमाल करे तो हम सिस्टम को आटोमेटिक कर सकते है ।

MCB  जो की पूरी तरह से एक मैन्युअल सिस्टम होता है । जिसका मतलब है अगर हमें MCB  से पावर स्विच को ऑन करना है तो हमें mcb- के पास जाना ही होगा । इसको हम दूर से ऑपरेट नहीं कर सकते है ।

mcb- की सुरक्षा की भी एक हद तक ही होती है । अब अगर स्टार्टर की बात करे तो स्टार्टर को आप बिजली के माध्यम से कही दूर से भी ऑपरेट कर सकते है । साथ ही साथ स्टार्टर में आप कई तरह के सुरक्षा को आप अलग से भी इस्तेमाल कर सकते है ।

स्टार्टर का इस्तेमाल का सबसे बड़ा फायदा यह भी होता है की इसके इस्तेमाल से हम मोटर को पूरी तरह से आटोमेटिक कर सकते है । मतलब की मोटर का इस्तेमाल कब करना है कब नहीं ये सब पहले से निर्धारित कर सकते है ।


How Many Type Of Motor Starter in hindi

बहुत से लोग ये जानते है की starter kitne prakar ke hote hain , बहुत से लोगो को नहीं मालूम है , जिनको नहीं मालूम है उनके लिए :-

इलेक्ट्रिकल में तीन प्रकार के ही स्टार्टर का सबसे ज्यादा उपयोग होता है।

1D.O.L. Starter (डीओएल स्टार्टर)
2Reverse Forward Starter (रिवर्स फॉरवर्ड स्टार्टर)
3Star Delta Starter (स्टार डेल्टा स्टार्टर)

What is D.O.L. Starter in hindi – डीओएल स्टार्टर क्या है?

DOL Starter in hindi – DOL का फुल फॉर्म  डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर होता है । इस  डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर का ही सबसे अधिक मात्रा में इस्तेमाल होता है ।  डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर की वायरिंग काफी आसान और साधारण सी होती है । डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर जो की 10 HP के नीचे के मोटर के लिए उपयोग में लाया जाता है ।

डी.ओ.एल. स्टार्टर वर्किंग/DOL Starter Working – इसकी वर्किंग जो की काफी आसान होती है। डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर में एक कॉन्टैक्टर, एक ओवरलोड रिले, ओर स्टार्ट स्टॉप के पुश बटन होता है । जिसका उपयोग करके मोटर को स्टार्ट किया जाता है ।

What is Reverse Forward Starter – रिवर्स फॉरवर्ड स्टार्टर

रिवर्स फॉरवर्ड स्टार्टर / Reverse Forward Starter – यह स्टार्टर भी डायरेक्ट ऑनलाइन स्टार्टर के जैसा ही होता है । Reverse Forward Starter का इस्तेमाल उस जगह पर किया जाता है जहा पर हमें मोटर को दो दिशा में चलना / घूमना होता है । Reverse Forward Starter स्टार्टर भी हम 10HP से कम की मोटर के लिए उपयोग करते है।

रिवर्स फॉरवर्ड स्टार्टर वर्किंग/ Reverse Forward Starter working – जैसे मैने आपको यह बताया की यह बिलकुल डीओएल स्टार्टर की तरह ही होता है। थोड़ा सा अंतर यह होता है की Reverse Forward Starter में हम दो तरह के कॉन्टैक्टर का उपयोग करते है।पहला कॉन्टैक्टर मोटर को सीधी दिशा में घुमाने के लिए दूसरा मोटर को उल्टी दिशा में घुमाने के लिए। जिसमे की पहला कॉन्टैक्टर मोटर को सीधी दिशा में घुमाने के लिए और दूसरा मोटर को उल्टी दिशा में घुमाने के लिए होता है ।

What is Star Delta Starter in hindi – स्टार डेल्टा स्टार्टर क्या होता है?

starter kitne prakar ke hote hain-  Star Delta Starter –  Star Delta Starter जो की हमारी बड़ी मोटर मे इस्तेमाल होने वाला स्टार्टर होता है। 10 HP से बड़ी मोटर के लिए ही केवल स्टार डेल्टा स्टार्टर को लगाने की राय ही दी जाती है।

स्टार डेल्टा स्टार्टर वर्किंग  Star Delta Starter working- Star Delta Starter का मुख्य काम हमारी बड़ी मोटर को स्टार्टिंग के समय ज्यादा करंट लेने से रोकना होता है। इस स्टार्टर मे तीन तरह के कॉन्टैक्टर लागए जाते है।

1STAR Contactor
2Delta Contactor
3Main Contactor
Motor Starter IN HINDI

मोटर स्टार्टिंग के समय पर बहुत ज्यादा करंट ना ले, इसके लिए इसमें हम वायरिंग को कुछ इस प्रकार करते है की पहले हमारे Main Contactor के साथ Star Contactor  भी स्टार्ट हो। जिसका उदेश मोटर को शुरुवात मे स्टार मे चलना होता है।

इसके थोड़े समय के बाद ही मे हम मोटर को स्टार कॉन्टैक्टर को हटाकर डेल्टा कॉन्टैक्टर को लगा देते है और इस तरह मोटर को डेल्टा मे चला दिया जाता है। स्टार डेल्टा स्टार्टर को बनाने के लिए हमको 3 कॉन्टैक्टर, 1 ओवरलोड रिले, 1 टाइमर, के साथ ही साथ हमें एक ऑन ऑफ करने के लिए पुश बटन की भी आवश्यकता होती है।

आखिरी कुछ शब्द इस पोस्ट के बारे में

आज के इस पोस्ट में हमने आपको मोटर स्टार्टर के बारे में हमने आपको इस पोस्ट में बताया , ये पोस्ट पढ़ के आप मोटर स्टार्टर के बारे में सभी बाटे समझ गए होंगे , इस पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद !!!!!!!

Read More On Gyantech

आशा करते है अपने ये पोस्ट को पूरा पढ़ा होगा , पोस्ट को पसंद आने पर शेयर जरूर करे ।

admin
adminhttps://www.gyantech.tech
यह एक हिंदी वेबसाइट है जो की ट्रेडिंग टॉपिक के साथ ही साथ एजुकेशनल पोस्ट को नियमित रूप से पब्लिश किया जाता है। इसकी शुरुवात साल २०२१ में हुआ है , तब से लेकर अब तक हम आप लोग के बीच बने हुए है। इस ब्लॉग के ओनर प्रेम मिश्रा है जो की बिहार के आरा जिला से सम्बंद रखते है। Contact us: ADMIN@GYANTECH.TECH
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

Comments are closed.

Most Popular