Prithvi se Surya ki duri kitni hai ?? [2022]

Prithvi se surya ki duri kitni hai :- आज के इस पोस्ट में हम आपको पृथ्वी से सूरज की कितनी दूरी है इसके बारे में जानकारी देंगे , जैसे कि अपने पिछले पोस्ट में हमने पृथ्वी से चांद की कितनी दूरी है के बारे में जानकारी दिया था ठीक उसी तरह इस पोस्ट में हम पृथ्वी से सूर्य की दूरी (Prithvi se Surya ki duri kitni hai) & (Surya se Prithvi ki Duri)के बारे में जानकारी देंगे, सूर्य सौरमंडल का सबसे बड़ा और विशाल का है जब भी ध्यान दिया होगा , सूर्योदय के समय में काफी तेज होती हैं सौरमंडल में जितने भी ग्रह उपग्रह उल्का पिंड, धूमकेतु उपलब्ध हैं वह सभी अपनी अपनी दूरी से सूर्य के चारों ओर परिक्रमा लगाते हैं।

बहुत से लोगों को मालूम होगा सूर्य की किरण धरती पर 300000 किलोमीटर रफ्तार से आती है, इतना अधिक रफ्तार होने के बाद भी सूर्य की किरणों को पृथ्वी पर आने में 8 मिनट 16. 6 सेकंड का समय लग जाता है , अब यह सवाल आना बिल्कुल जायज है इतनी तेज रफ्तार से सूरज की किरण पृथ्वी पर आने के बाद भी 8 मिनट 16.6 सेकंड का समय लगना , पृथ्वी और सूर्य के बीच में दूरी कितनी है।

आज के पोस्ट में हम आपको उसी सवाल का जवाब देंगे आखिर पृथ्वी और सूर्य के बीच की दूरी कितनी है (prithvi se surya ki doori kitni hai) ,छोटी सी निवेदन यह है पोस्ट को कृपया पूरा पढ़ें ताकि आपको पूरी जानकारी प्राप्त हो सके।

पृथ्वी से सूर्य की दूरी कितनी है – Prithvi se Surya ki duri kitni hai

Prithvi se Surya ki duri kitni hai
Prithvi se Surya ki duri kitni hai

पृथ्वी और सूर्य के बीच में औसत दूरी 14 करोड़ 95 लाख कि.मी. है। पृथ्वी और सूर्य के बीच में कितनी दूरी है यदि पृथ्वी से किसी भी तरह का कोई रॉकेट या उपग्रह भेजा जाता है तो उसको पहुंचने में लगभग बहुत सारे साल लग जाएंगे, और सूर्य के अधिक तापमान होने के कारण वह उनके करीब भी नहीं जा पाएगा और पहले ही जल जाएगा, सूर्य और पृथ्वी के बीच की औसत दूरी 14 करोड़ 9500000 किलोमीटर है, सूर्य की किरण पृथ्वी पर 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से धरती पर आती है।

सूर्य के सबसे पास का ग्रह बुध होता है, पृथ्वी इस सीरीज में तीसरे स्थान पर आती है, पृथ्वी सूर्य के चारों तरफ जींस वृत्तीय कक्षा में घूमती है वह पूरी तरह से गोलाकार नहीं है इस कारण पृथ्वी और सूर्य की दूरी हमेशा एक जिस समान और सब एक समान नहीं रहती है.

पृथ्वी सूर्य के चक्कर लगाने में 1 साल का समय लेती है, चक्कर लगाने के समय पृथ्वी कभी सूर्य के करीब होती है तो कभी दूर होती है आपको बता दें कि जनवरी माह में पृथ्वी सूर्य के सबसे करीब होती है और उस समय सूर्य से 14.71 करोड़ कि.मी.दूर होती है जबकि जुलाई के महीने में पृथ्वी सूर्य से सबसे दूर स्थित होती है उस वक्त यह सूर्य से 15.21 करोड़ कि.मी.की दूरी पर होती है।

सूर्य पृथ्वी से 109 गुना बड़ा है।  सूर्य और पृथ्वी के बीच की औसत दूरी 14 करोड़ 9500000 किलोमीटर है, सूर्य की किरण पृथ्वी पर 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से धरती पर आती है।

आखरी कुछ शब्द इस पोस्ट के बारे में

आज के इस पोस्ट में हमने पृथ्वी से सूर्य की कितनी दूरी है (Prithvi se Surya ki duri kitni hai) & (Surya se Prithvi ki Duri) के बारे में जानकारी दिया , साथ ही साथ हमने आपको यह भी बताया कि पृथ्वी से सूर्य की सबसे कम दूरी क्या है और पृथ्वी से सूर्य के सबसे अधिकतम दूरी क्या है, साथ ही साथ किसी पोस्ट में हमने पृथ्वी पर सूर्य की आने वाली किरण की रफ्तार के बारे में भी जानकारी दीया , आशा करते हैं यह पोस्ट आपकी जानकारी को बढ़ाने वाला होगा और इस पोस्ट को पढ़ करके आप सूर्य और पृथ्वी के बीच की दूरी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त किए होंगे।

यह पोस्ट पसंद आने पर कृपया पोस्ट को शेयर जरूर करें, इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद !!

इस तरह के रोचक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे वेबसाइट का सब्सक्रिप्शन जरूर ले…

FAQ :Surya se Prithvi ki Duri

Q- सूर्य पृथ्वी से कितना दूर है बताइए?

Ans- सूर्य और पृथ्वी के बीच की औसत दूरी 14 करोड़ 9500000 किलोमीटर है, सूर्य की किरण पृथ्वी पर 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से धरती पर आती है.

Q- सूर्य के प्रकाश की गति क्या है?

Ans- सूर्य के प्रकाश की स्टिक गति 2,99,792,458 मीटर प्रति सेकंड है।

Q- भारत में सबसे पहले सूर्योदय कहाँ होता है?

Ans- सबसे पहले सूर्योदय अरुणाचल प्रदेश में होता है।

Q- सूर्य से पृथ्वी पर प्रकाश आने में कितना समय लगता है?

Ans- सूर्य से पृथ्वी पर प्रकाश आने में 8 मिनट 16.6 सेकंड का समय लगता है।

Read More On GyanTech

कोविड-19 के दौर में बिना Mask के घर से बाहर नहीं निकले अपना और अपने परिवार का ख्याल रखें हमसे गूगल न्यूज़ के माध्यम जुड़ने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक कर हमसे जुड़ें.

Leave a Comment