Homeफुल फॉर्मISRO Full Form in Hindi | ISRO का फुल फॉर्म क्या है?

ISRO Full Form in Hindi | ISRO का फुल फॉर्म क्या है?

ISRO Full Form in Hindi :- आज अपने इस पोस्ट में  ISRO का फुल फॉर्म क्या है? के बारे में बतायेगे। जैसे अमेरिका के अंतरिक्ष एजेंसी नासा है। वैसे ही इंडिया की अंतरिक्ष एजेंसी ISRO है। बहुत से लोग इसके फुलफॉर्म (isro ka full form in hindi) के बारे में जानना चाहते होंगे। जैसे इसकी स्थापना कब हुए थी।

आज अपने इस पोस्ट में इसके बारे में जानकारी देंगे। आशा करते है ये पोस्ट आपकी जानकारी को बढ़ाने वाला होगा।

ISRO Full Form in Hindi –

भारत दुनिया का छठा ऐसा देश बन गया है जो खुद की सेटेलाइट और अन्य अंतरिक्ष के उपकरण का निर्माण करके उसे स्वयं अंतरिक्ष में स्थापित कर सकता है। चलिए जाने ISRO Full Form के बारे में।

ISRO FULL FORM IN HINDI
ISRO FULL FORM
ISRO Full FormIndian Space Research Organization
ISRO Full Form in Hindi भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन 
ISRO Full Form & ISRO ka full form in hindi

ISRO जिसका फुल फॉर्म Indian Space Research Organization होता है। जिसको हिंदी में इसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन कहते है। ISRO की स्थापना 15 अगस्त सन 1969 में विक्रम साराभाई के द्वारा की गई थी। ISRO का मुख्यालय बेंगलुरु में है। ISRO भारत के लिए सेटेलाइट के उपकरण जैसे ब्रॉडकास्ट, टेलीमेडिसिन, कम्युनिकेशन, जियोग्राफिक इनफार्मेशन सिस्टम, डिस्टेंस एजुकेशन सैटेलाइट्स का निर्माण करते है। इसरो संगठन के पूरे भारत में कई केंद्र है, जिनके माध्यम से अनुसन्धान और तकनीक का विकास किया जाता है।

ISRO आज के समय में दुनिया की टॉप 5 सबसे बड़ी अंतरिक्ष एजेंसियों हैं। ISRO अब तक अंतरिक्ष मे 370 उपग्रह भेज चुका हैं।ISRO अब तक 101 भारत के लिए और 269 विदेशों के लिए उपग्रह भेज चुका है।अभी हाल ही में चन्द्रयान-2 की सफलता के बाद अब भारत द्वारा अंतरिक्ष मे 371 उपग्रह भेजे जा चुके हैं।

ISRO की स्थापना कब हुई थी?

इसरो की स्थापना विक्रम साराभाई द्वारा किया गया था ।इसरो की स्थापना 15 अगस्त 1969 को किया गया था इसकी मुख्यालय भारत के कर्नाटक राज्य के बेंगलुरु शहर में स्थित है । डॉ विक्रम साराभाई जिनको भारत सरकार द्वारा 1966 में तकनीक के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए पद्म भूषण सम्मान से सम्मानित किया गया था ।डॉ विक्रम साराभाई इसरो के सबसे पहले चेयरमैन थे ।

ISRO का मुख्यालय कहां स्थित है?

ISRO की स्थापना 15 अगस्त 1969 को किया गया था इसकी मुख्यालय भारत के कर्नाटक राज्य के बेंगलुरु शहर में स्थित है ।

ISRO की उपलब्धियां

  • इसरो की सबसे पहली उपलब्धि साल 1963 में थुम्बा से पहले रॉकेट का परीक्षण करना था ।
  • 1975 में भारत का पहेला उपग्रह लॉन्च किया गया जिसका नाम आर्यभट रखा गया।
  • 1979 भारत का दूसरा उपग्रह द्वारा अंतरिक्ष में भेजा गया जिसका नाम भास्कर रखा गया था ।
  • 1999 इसरो ने भारत के अलावा दुनिया की किसी दूसरे देश का उपग्रह को अंतरिक्ष में भेजा ।
  • साल 2013 को मंगलयान को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया और पहली ही बार मे मंगलयान को सफलतापूर्वक लॉन्च करने वाला भारत पहले देश बन गया था।
  • साल 2019 को चन्द्रयान-2 को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया और दूसरे देशों के मुक़ाबले सबसे कम ख़र्चे में चन्द्रयान-2 लॉच किया गया था।

ISRO का इतिहास

इसरो की स्थापना विक्रम साराभाई द्वारा किया गया था ।इसरो की स्थापना 15 अगस्त 1969 को किया गया था इसकी मुख्यालय भारत के कर्नाटक राज्य के बेंगलुरु शहर में स्थित है । डॉ विक्रम साराभाई जिनको भारत सरकार द्वारा 1966 में तकनीक के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए पद्म भूषण सम्मान से सम्मानित किया गया था ।डॉ विक्रम साराभाई इसरो के सबसे पहले चेयरमैन थे ।

साल 2013 को मंगलयान को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया और पहली ही बार मे मंगलयान को सफलतापूर्वक लॉन्च करने वाला भारत पहले देश बन गया था।साल 2019 को चन्द्रयान-2 को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया और दूसरे देशों के मुक़ाबले सबसे कम ख़र्चे में चन्द्रयान-2 लॉच किया गया था।

ISRO अब तक 101 भारत के लिए और 269 विदेशों के लिए उपग्रह भेज चुका है।अभी हाल ही में चन्द्रयान-2 की सफलता के बाद अब भारत द्वारा अंतरिक्ष मे 371 उपग्रह भेजे जा चुके हैं।

Conclusion

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको ISRO Full Form in Hindi & ISRO Full Form और उससे जुडी जानकारी प्राप्त करवाया है और भी कुछ अगर जानना हो तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर पूछ सकते है और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो कृपया करके फॉलो और शेयर करे। 

  • इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद !!!

Q- भारत का पहला रॉकेट कौन सा है?

ANS – पहला रॉकेट, नैकी-अपाची, संयुक्त राष्ट्र अमेरिका से प्राप्त किया गया था, जिसे 21 नवंबर, 1963 को प्रमोचित किया गया। 

Q – भारत ने स्वयं अपने राकेट कब से बनाने शुरू किया? 

ANS – भारत का पहला स्वदेशी परिज्ञापी राकेट, आरएच-75, 20 नवंबर, 1967 में प्रमोचित किया गया।

Q – नासा और इसरो का फुल फॉर्म क्या है?

ANS-  ISRO का फुल फॉर्म इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन है। NASA का मतलब नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन है

Q – इसरो के संस्थापक कौन हैं?

ANS – डॉ. विक्रम साराभाई 

Q- इसरो के प्रथम अध्यक्ष कौन है?

ANS – डॉ. विक्रम साराभाई 

Read More on Gyantech

For Guest Post and Sponsorship Post Mail On admin@gyantech.tech & Follow me @ GoogleNews 
admin
adminhttps://www.gyantech.tech
यह एक हिंदी वेबसाइट है जो की ट्रेडिंग टॉपिक के साथ ही साथ एजुकेशनल पोस्ट को नियमित रूप से पब्लिश किया जाता है। इसकी शुरुवात साल २०२१ में हुआ है , तब से लेकर अब तक हम आप लोग के बीच बने हुए है। इस ब्लॉग के ओनर प्रेम मिश्रा है जो की बिहार के आरा जिला से सम्बंद रखते है। Contact us: ADMIN@GYANTECH.TECH
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular