History of cellphone in hindi । Historical development of cell Phones

History of cellphone- आप सभी का हार्दिक स्वागत है ,मेरे इस वेबसाइट पर जिसका नाम gyantech है। आज  के इस दौर में मोबाइल फ़ोन जीवन का एक जरुरी भाग बन गया है।आज हम अपने इस पोस्ट मे Historical development of cell Phones / Mobile History In Hindiके बारे मे बात करते है। 

आज के समय में बहुत सारे हमारे कार्य मोबाइल फ़ोन  माध्यम से होते है।आज आपके पॉकेट में रखा मोबाइल किसी चमत्कार से कम नही है। केवल कॉल करने में कार्य आने वाला मोबाइल आज के समय में कंप्यूटर की तरह एडवांस हो गया है।सभी लोग आज के समय मे मोबाइल का इस्तेमाल करते है ,पर क्या वो इसके इतिहास के बारे मे  जानते है ? शायद नहीं !

History of cellphone

History of cellphone in hindi

मोबाइल का आविष्कार मार्टीन कूपर ने किया था।दुनिया का पहला मोबाइल वर्ष 1973 में मोटोरोला कम्पनी ने बनाया था। इसका  नाम मोटोरोला Dyna TAC 8000x था।यह Mobile वजन में 1.1 किलोग्राम भारी था।

इस मोबाइल की बैटरी को चार्ज करने में 10 घण्टे का समय लगता था। मोबाइल को एक बार चार्ज करके करीब 30 मिनट तक बात की जा सकती थी। उस वक्त मार्केट  में इस मोबाइल की कीमत 3 लाख रुपये के करीब थी। टेलीफोन के आविष्कार के बाद यह दूर संचार में क्रांति थी। इस Mobile को 0 जनरेशन कहा गया।

मार्टीनकूपर का जन्म 26 दिसम्बर,1928 को अमेरिका में हुआ था।दुनिया का पहला कॉल  मार्टीन कूपर  ने अमेरिका के न्यूयोर्क शहर से किया था।इसके लिए इस्तेमाल किया गया मोबाइल “Dyna TAC 8000x “का Prototype था।

शुरुआत में मोबाइल फ़ोन केवल कॉलिंग फीचर के साथ आता था यानी कि कॉल करना और कॉल रिसीव करने के लिए ।मार्टिन कूपर ने मैनहट्टन में स्थित अपने ऑफिस से न्यू जर्सी में स्थित बेल लैब्स के मुख्यालय में पहला कॉल किया था।

बाद में वह इस कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) भी बने।मार्टिन कूपर को दुनिया के पहले मोबाइल फोन के निर्माण के कारण वर्ष 2013 में संचार के क्षेत्र में किये गये विलक्षण कार्य के लिये दिये जाने वाले मार्कोनी पुरस्कार (Marconi Award) से सम्मानित किया गया था।  

Historical development of cell Phones (History of Mobile Phones 1973 to 2017)

1वर्ष 1979 में जापान में पहला मोबाईल नेटवर्क बिछाया गया था। यह फर्स्ट जनरेशन का नेटवर्क था जिससे लोग आपस में बात कर सकते थे। 
22nd जेनरेशन मोबाईल नेटवर्क सेवा फ़िनलैंड में वर्ष 1991 में रेडिओलिंजा नामक कम्पनी ने शुरू की थी।इस सेवा की शुरुआत से मोबाइल में SMSऔर इंटरनेट सेवा आ गयी।
32nd जेनरेशन मोबाईल नेटवर्क के बाद में 3G  आया जो उस समय का सबसे एडवांस मोबाइल नेटवर्क था।इसकी सहायता से डेटा ट्रांसफर करना फ़ास्ट हुआ।वीडियो कॉलिंग फीचर भी इसी जनरेशन में आया था। 
evolution of phones timeline

मोबाइल फोन से जुड़े कुछ रोचक जानकारी (evolution of phones timeline)

1आज के समय में स्लिम फोन आ गये हैं लेकिन जब पहली मोबाइल फ़ोन से पहली कॉल की गई थी उस फ़ोन का वजन 1.1 किलोग्राम था।यह मोबाइल फ़ोन  13 सेमी मोटा और 4.45 सेमी चौड़ा था,जिसे जूता से तुलना की जाती थी।  
2 इस समय के मोबाइल फ़ोन को चार्ज होने में 15 से 20 मिनट का समय लगता है और इसकी बैक अप क्षमता लगभग 1 दिन की होती है। लेकिन दुनिया के पहले मोबाइल को पूरी तरह से चार्ज करने में 10 घंटे का समय लगता था,इसके बावजूद यह सिर्फ 30 मिनट तक ही इस्तेमाल किया जा सकता था। 
3सबसे पहले मोबाइल फोन की बैट्री का वजन आज की तुलना में चार से पांच गुना ज्यादा था। 
41983 में मोटोरोला ने जिस पहले मोबाइल हैंडसेट को बाजार में उतारा था, उसकी कीमत लगभग दो लाख रुपए थी. इस मोबाइल हैंडसेट का नाम Dyna TAC 8000x था। 
51979 में First-Generation (1G) टेक्नोलॉजी की शुरुआत जापान में हुई थी, जिसकी मदद से एक बार में कई लोग आपस में कॉल कर सकते थे। 
61991 में 2G टेक्नोलॉजी की शुरुआत Finland में हुआ था। 
72G टेक्नोलॉजी की शुरुआत के पूरे 10 साल बाद 2001 में 3G टेक्नोलॉजी आया था, जिसे जापान की कंपनी NTT DoCoMo ने शुरू किया था। 
8एक समय Nokia इस मोबाइल फ़ोन की सबसे बड़ी कम्पनी थी। NOKIA का 1100 मॉडल इस दुनिया का सबसे ज़्यदा बिकने वाला फ़ोन है। 
9आज के time पर सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी कम्पनी है। इसके स्मार्टफोन दुनिया में बहुत प्रसिद्ध है। 
10पहला कैमरा फ़ोन जापान के शार्प कम्पनी ने साल 2000 में बनाया था। 
11पहला टच फ़ोन IBM का सिमोन था जो की साल 1992 में बना था। जिसमे ईमेल की सुविधा थी। 
12iPhone ‘iOS’ पर काम करता है जो की साल 2007 में आया था। 
13 साल 2008 में  पहला एंड्राइड फ़ोन आया था। 
Brief History of Mobile Phones
मोबाइल में कालिंग या इंटरनेट के लिए सिम कार्ड  (Subscriber Identification Module) होना जरूरी होता है।इसके बिना मोबाइल का महत्व नही है।दुनिया का पहला मोबाईल सिम कार्ड वर्ष 1991 में जर्मन कम्पनी जीसेक एंड डेवीएंट ने बनाया था।

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको History of cellphone/ evolution of phones timeline ,के साथ उससे जुडी जानकारी प्राप्त करवाया है और भी कुछ अगर जानना हो तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर पूछ सकते है और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो कृपया करके फॉलो और शेयर करे। 

Read More on GyanTech

1How To Make Money Online In Hindi 2021
2Voice Over LTE Meaning। Voice Over LTE In Hindi
3How to buy iphone on emi in hindi
4sim full form in hindi

Leave a Comment